हाल ही में सोशल मीडिया पर एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमे आपको बतादें कि बसपा सुप्रीमो मायावती फिर से सीबीआई जांच के घेरे में आ गई हैं. जल्‍द ही सीबीआई उन पर शिकंजा कस सकती है. सीबीआई ने 21 चीनी मिलों की बिक्री की जांच शुरू कर दी है. ऐसे में चुनाव से ठीक पहले हो रही इस कार्रवाई में मायावती के अलावा मायावती के करीबी रहे नसीमुद्दीन सिद्दिकी भी फंस सकते हैं.

वहीँ दूसरी और संभावना जताई जा रही है कि आज मायावती इस मामले में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस भी कर सकती हैं. 21 चीनी मिलों की बिक्री का मामला योगी सरकार में फिर उछला है. सीबीआई ने पूरे मामले को टेकओवर कर जांच शुरू कर दी है. सीबीआई ने बिक्री के दस्तावेजों की समीक्षा करनी शुरू कर दी है. मायावती पर जल्द ही मामले में एफआईआर भी दर्ज हो सकती है.

आपको बतादें कि इस मामले में कई आईएएस अफसर और नेता भी जांच के घेरे में हैं. सीबीआई ने न्‍यूज 18 इंडिया से बातचीत में जांच की बात स्‍वीकार की है. इस मामले में नसीमुद्दीन ने मायावती और सतीश चंद्र मिश्रा का नाम लिया था. वहीं, सीएम योगी ने चीनी मिल बेचे जाने को बड़ा घोटाला बताया था.

इन मिलों में देवरिया, बरेली, लक्ष्मीगंज, हरदोई, रामकोला चीनी मिलें शामिल हैं. वहीं चित्तौनी और बाराबंकी की भी चीनी मिलों पर जांच की आंच आ गई है.