TRAI चेयरमैन की बैंक डिटेल भी लीक, हैकर्स ने खाते में जमा किया 1 रुपया

0
176

आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालो का जवाब देने के लिए भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के अध्यक्ष और आधार प्रणाली के सबसे बड़े समर्थकों में से एक आरएस शर्मा को ट्विटर पर 12 अंकों का आधार नंबर डाल डाटा निकालने की चुनौती देना भारी पड़ता दिखाई दे रहा है।

हैकर्स ने अब उनके बैंक खातों की डिटेल भी निकाल ली है। इतना ही नहीं भीम और पेटीम के जरिए शर्मा के खाते में 1 रुपये भी जमा कर दिए। हैकर्स का दावा है कि अब तक उनकी 14 जानकारियां लीक हो चुकी हैं। इन जानकारियों में टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन का मोबाइल नंबर, घर का पता, जन्मतिथि, पैन नंबर, वोटर आईडी नंबर, टेलिकॉम ऑपरेटर, फोन मॉडल और एयर इंडिया फ्रीक्वेंट फ्लायर आईडी शामिल हैं।

हालांकि भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) का कहना है कि शर्मा की जो व्यक्तिगत जानकारी ट्विटर पर डाली जा रही है, वह आधार डाटाबेस अथवा उसके सर्वर से नहीं ली गई है। इस बारे में डाटाबेस को हैक किये जाने के जो दावे किये जा रहे हैं वह जानकारी गूगल सर्च पर आसानी से उपलब्ध है। इसके लिये 12 अंकों के विशिष्ट पहचान संख्या की आवश्यकता भी नहीं है।

यूआईडीएआई ने एक वक्तव्य में कहा है, ‘‘….. ट्विटर पर जिस व्यक्ति, आर एस शर्मा की जानकारी को प्रकाशित किया जा रहा है वह आधार डाटाबेस से नहीं या फिर यूआईडीएआई के सर्वर से नहीं उठाई गई है।’’ यूआईडीएआई ने कहा, ‘‘वास्तव में जिस जानकारी को हैक करके प्राप्त जानकारी बताया जा रहा है.. जैसे शर्मा का व्यक्तिगत ब्यौरा, उनके घर का पता, जन्म तिथि, फोटो, मोबाइल नंबर, ई-मेल पता आदि ये तमाम जानकारी पहले से ही सार्वजनिक रूप से उपलब्ध हैं।’’

बता दें कि एथिकल हैकर्स सुरक्षा या किसी चुनौती का टेस्‍ट करने के लिए कंप्‍यूटर नेटवर्क को हैक करते हैं। आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देना उनका मकसद नहीं होता।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें