मुस्लिम ब्रदरहुड के प्रमुख नेता को उम्र क़ैद

0
59

रविवार को गीज़ा की फ़ौजदारी अदालत ने मुस्लिम ब्रदरहुड के प्रमुख नेता मोहम्मद बदी को इस आंदोलन के कुछ दूसरे नेताओं के साथ जिनमें मोहम्मद अलबल्ताजी, सफ़वत हेजाज़ी, एसाम अलएरियान और हुसैन अंतार शामिल हैं, उम्र क़ैद की सज़ा सुनायी।

अदालत का यह ताज़ा आदेश मोहम्मद बदी सहित मुस्लिम ब्रदरहुड के दूसरे बड़े नेताओं के ख़िलाफ़ अनेक मुक़द्दमे की कार्यवाही के बाद सामने आया है। मिस्र में 2013 में व्यापक जन प्रदर्शन के बाद, इस देश के पहले प्रजातांत्रिक तरीक़े से चुने गए राष्ट्रपति मोहम्मद मुरसी को सैन्य विद्रोह द्वारा हटाए जाने से पहले कि जिसकी अगुवाई मौजूदा राष्ट्रपति अब्दुल फ़त्ताह अस्सीसी ने की थी, मुस्लिम ब्रदरहुड की हुकूमत थी।

अदातल ने मुरसी की हुकूमत में सप्लाई मंत्री रह चुके बासिम उदा को भी 15 साल क़ैद की सज़ा सुनायी है। इसी तरह मुस्लिम ब्रदरहुड के मशहूर नेता हिशाम कामिल, जमाल फ़त्ही और अहमद दाही पर प्रदर्शनकारियों को कथित रूप से हिंसक रवैया अपनाने के लिए भड़काने का इल्ज़ाम है।

सज़ा पाने वाले इन सभी नेताओं को हाई कोर्ट में एक बार अपील करने का अधिकार है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें