सऊदी के ख़िलाफ़ कनाडा का समर्थन करेंगे जर्मन और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार समूह

0
90

जर्मनी के ड्यूश वेले अख़बार की रिपोर्ट में अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार समूहों और जर्मन सांसदों ने यूरोपीय संघ और चांसलर एंजेला मार्केल की सरकार को “सार्वजनिक रूप से और स्पष्ट रूप से” सऊदी अरब के साथ विवाद में कनाडा का समर्थन करने का आह्वान किया है.

इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर ह्यूमन राइट्स के एक प्रवक्ता, मार्टिन लोचेंथिन ने कहा: “हम गवाह हैं कि कनाडा जैसे लोकतांत्रिक राज्य को सऊदी अरब की निंदा के संदर्भ में क्या किया जा रहा है,” यह भी कहा कि लोकतांत्रिक राज्यों को चुप नहीं रहना चाहिए. हम कनाडा के साथ है क्योंकि कनाडा ने अपनी आवाज़ मनावाधिकारों के हक़ में उठायी है जो बिलकुल सही है.

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, “सऊदी अरब; पश्चिम के सैन्य सहयोगी, ईरान से कई तरीकों से अलग व्यवहार नहीं करते हैं. “उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता और लोकतंत्र और चरमपंथी समूहों के समर्थन के लिए प्रतिबद्ध नहीं होने के दोनों देशों पर आरोप लगाया गया है.

कनाडा क विदेश मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड के बाद सऊदी-कनाडाई संबंध बिगड़ गए क्योंकि सऊदी अरब में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की सार्वजनिक आलोचना की.

जवाब में, सऊदी अरब ने कनाडा के राजदूत को देश से निकाल दिया साथ ही अपना राजदूत कनाडा से वापस बुला है. सऊदी ने कनाडा के साथ सभी व्यापारिक सम्बन्ध खत्म कर दिए है. सऊदी के इस फैसले का UAE, रूस, बहरीन, अमेरिका और अन्य देशों ने समर्थन किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें