केरल में पहली बार कोई महिला बनी हज कमेटी में सदस्‍य

0
28

तिरुवनंतपुरम: केरल की हज कमेटी में पहली बार कोई कोई महिला सदस्‍य के रूप में नियुक्त हुई है। केरल सरकार ने इंडियन नेशनल लीग (आईएनएल) की नेता और कान्हागढ़ नगर पालिका की उपाध्यक्ष एल.सुलैखा को अगले दो सालों के लिए नियुक्त किया है।

शनिवार (11 अगस्त) को जारी आधिकारिक सूचना के अनुसार, सोमवार (13 अगस्त) को तिरुवनंतपुरम में वह कमेटी की एक बैठक में भी हिस्सा लेंगी। सुलेखा ने कहा कि “मैं इस मौके पर बेहद खुश हूं और कमेटी के लिए काम करना मेरे लिए सौभाग्य की बात होगी।”

उन्होने कहा, “हज की बात आती है तो पुरुषों के मुकाबले महिला हज यात्रियों की संख्या अधिक रहती है। ऐसे में हज कमेटी में महिलाओं का प्रतिनिधित्व करने पर मेरी जिम्मेदारी बनती है कि मैं उनकी परेशानियों पर ध्यान दूं।”

सुलेखा के अलावा नई समिति में 15 अन्य सदस्य हैं जिनमें दो पूर्व पदाधिकारी सदस्य शामिल हैं। इस साल की शुरुआत में, भारत की हज समिति ने महिलाओं को मरहम के बिना हज करने की इजाजत दी है। जिसके बाद करीब 1,100 महिला आवेदक मक्का के लिए रवाना हुए।

महिलाओं के लिए छूट हज नियमों में सऊदी अरब के 2014 के संशोधन के चलते हुई थी, जिससे महिलाओं को नजदीकी पुरुष रिश्तेदार के बिना हज करने की इजाजत मिलती थी।

हाल ही में, अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्रालय ने भारतीय महिला लेखा सेवा अधिकारी मोइना बेनजीर को पहली महिला हज समन्वयक नियुक्त किया था।