जाम़िया हॉस्टल छात्राओं की शिकायत- ‘खाने में निकले कीड़े और थालियां चाटती हैं बिल्लियां’

0
35

जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के स्टल में रहने वाली छात्राओं ने शिकायत की है कि उनके लिए बनाए जाने वाले खाने में साफ-सफाई का ख्याल नहीं रखा जा रहा है. हाल ही में छात्राओं को उनके खाने की थाली में कीड़े मिलने का आरोप लगाया है साथ ही छात्राओं है खाने की थालियाँ भी बिल्ली चाटती है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, छात्राओं का कहना है कि ऐसा नहीं है कि पहली बार ऐसा हुआ है बल्कि कई बार खाने में कीड़ा पाया गया है. इसलिए हमें अपनी बात उठानी पड़ी. प्रभावित छात्रा ने बताया कि केयर टेकर ने उनकी बात को यह कह कर टाल दिया कि घर पर भी ऐसा हो जाता है. छात्राओं का कहना है कि उनके स्वास्थ्य के साथ समझौता किया जा रहा है.

साथ ही छात्राओं का कहना है कि, जामिया प्रशासन छात्राओं से हॉस्टल फीस के रूप में 15 हजार रुपये लेता है, जिसमें से 11 हजार मेस यानी खाने के लिए जाते है. जिस तरह की लापरवाही खाने के मामले में बरती जा रही है, वह कहीं से भी छात्राओं के स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है. जामिया प्रशासन को छात्राओं की पढ़ाई और स्वास्थ्य दोनों का ध्यान रखना चाहिए.

छात्राएं बताती हैं खाने की क्वालिटी भी खराब है. वहीँ प्रोवोस्ट अजरा खुर्शीद ने बचाव करते हुए कहा कि ऐसा नहीं है कि खाने-पीने में साफ-सफाई का ख्याल नहीं रखा जाता है. छात्राएं जिस घटना की बात कर रही हैं, उसमें कोई उड़ता हुआ कीड़ा खाने मे गिर गया था. छात्राएं कुछ भी शिकायत करती हैं और मामूली सी बात को बढ़ाया जा रहा है. अजरा खुर्शीद ने यहां तक कहा कि जामिया का हॉस्टल किसी होटल से कम नहीं है. यहां बहुत अच्छी सुविधा छात्राओं को दी जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें