इमरान खान बने पाक के PM, जानिए भारत के बारे क्या है इनकी सोच

0
92

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमे आपको बतादें कि पहले मैंने नवाज शरीफ को एक संदेश भेजा था, लेकिन कल मैं मोदी को भी एक संदेश भेजूंगा. मैं नवाज शरीफ को बताऊंगा कि नरेंद्र मोदी को कैसे जवाब दिया जाए ये टिप्पणी पाकिस्तान के आम चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के मुखिया इमरान खान की है.

वहीँ दूसरी और आपको बतादें कि सितंबर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद इमरान खान ने भारत को लेकर ये टिप्पणी की थी. क्रिकेटर से पॉलिटिशियन बने इमरान खान ने शनिवार को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली. भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते जगजाहिर हैं. ऐसे में इमरान खान के पुराने बयानों के आधार पर समझते हैं कि वह भारत के बारे में क्या विचार रखते हैं.

लेकिन वह गुजरते वक्त के साथ भारत के साथ  अच्छे संबंध चाहते हैं, ताकि दोनों देशों को फायदा हो. मैं बचपन से ही भारत से नफरत करता था क्योंकि मैं लाहौर में बड़ा हुआ हूं और वहां 1947 में नरसंहार हुआ था, जिसके चलते खून बहा और नफरत फैली. लेकिन जब मेरा भारत आना जाना हुआ, मुझे वहां प्यार मिला, मेरे दोस्त बने. इससे वो नफरत खत्म हो गई.

आपको बतादें कि हमारा इतिहास एक जैसा है. हमारी सभ्यता और संस्कृति एक जैसी है. इससे भी अलग बात ये है कि अगर दोनों देशों के बीच रिश्ते सुधरते हैं तो दोनों देशों के लोगों को फायदा हो सकता है. उस वक्त इमरान खान ने सत्ता में आने पर भारत के साथ संबंधों को सुधारने की शपथ भी ली थी. उन्होंने कहा था, “मुझे किसी भी देश के खिलाफ कोई पूर्वाग्रह नहीं है