छत्तीसगढ़: चलती ट्रेन में कराया महिला का प्रसव, मददगार बने ट्रेन के यात्री

0
40

छत्तीसगढ़ संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के स्लीपर कोच एस-थ्री में यू-ट्यूब पर प्रसव की प्रक्रिया को देखकर सहयात्रियों ने एक गर्भवती को सुरक्षित प्रसव कराया। खास बात ये है कि ये पूरा प्रसव यू-ट्यूब पर प्रसव की प्रक्रिया को देखकर कराया गया।

जानकारी के अनुसार, कुमारी यादव अपनी सास के साथ सफर कर रही थी, उनकी हालत बिगड़ती जा रही थी, तभी साथ सफर कर रही महिला रफत खान उनकी मदद के लिए आगे आयी रात के 12 बज रहे थे। रफत ने पहल की फिर उस पीड़ित महिला के साथ इंसानियत खड़ी हो गयी।

TTE महेश,रमेश, विनोद, मनोज, पैंट्री कार के कर्मचारी सह यात्री सब मदद के लिए आगे आ गए, चुकी मामला बिगड़ रहा था और ट्रेन का स्टॉप सागर था जो लगभग 4.30 घण्टे दूर था ऐसे में महिला सह यात्रियों ने मोर्चा संभाला तुरन्त पैंट्री कार से गर्म पानी 3AC कोच से साफ तौलिए चादर मंगाए गए, सभी ने आगे आकर मदद की, किसी ने डेटॉल दिया, किसी ने सेनेटाइजर एक व्यक्ति ने अपनी शेविंग किट से नई ब्लेड निकाल कर दी, जिससे गर्भनाल को काटा जा सके, यहां तक धागा ना होने पर चद्दर को काट कर धागा बनाया गया।

एक व्यक्ति लगातार फोन पर अपनी नर्स पत्नी से सलाह ले रहे थे, कोई यू ट्यूब में देख कर गाइड कर रहा था, ठीक 12:48 पर बच्ची ने जन्म लिया सब खुश थे। मां बेटी दोनों स्वस्थ थे TTE लगातार अधिकारियों को खबर कर रहे थे। सागर पहुंचते ही महिला और बच्चे को रेलवे के डॉक्टर जो कि पहले से वहां मौजूद थे अपने साथ ले गए। इन सब के बीच 100 की स्पीड से चलती ट्रेन में बच्ची ने जन्म लिया और सभी लोगों ने चैन की सांस ली।

इस बात के चश्मदीद अनुज जयसवाल ने इस घटना की जानकारी अपनी फेसबुक वाल पर दी। ट्रेन में दिल्ली से कटनी लौट रहे कटनी निवासी अनुज जायसवाल व नीरज बर्मन ने रफत सहित अन्य सह यात्रियों को एक वीडियो भी दिखाया।