ABVP के समर्थन में JNU पहुंचे सीएम पेमा खांडू का नॉर्थ ईस्ट के छात्रों ने किया जमकर विरोध

0
28

जेएनयू में नॉर्थ इस्ट के छात्रों को साधने के लिए एबीवीपी ने अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू को बुलायाथा। लेकिन पेमा खांडू को विरोध का सामना करना पड़ा। उस वक्त खांडू के साथ असम के सीएम सर्वानंद सोनोवाल और मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह भी थे।

दरअसल, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने नॉर्थ इस्ट के छात्रों को साधने के इशन उदय :ब्रिडगिंड ऑन हर्ट नाम से कोयना हॉस्टल मैस में पब्लिक टॉक का आयेाजन किया। इसमें असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनवाल, अरुणांचल प्रदेश के मुख्यंत्री पेमा खांडू और मणिपुर के मुख्यमंत्री एनबीरेन सिंह को बतौर अतिथि आमंत्रित किया गया था।

इस दौरान खांडू जैसे ही बोलने वाले थे, उन्हें एक छात्रा ने दखल देते हुए रोक दिया। उसका कहना था कि कोयना हॉस्टल की मेस में आयोजित कार्यक्रम में उत्तर पूर्वी राज्यों के कई विद्यार्थियों को प्रवेश नहीं करने दिया गया। वह बोली, “नॉर्थ ईस्ट मूल के विद्यार्थियों को यहां आने नहीं दिया गया। यह सही नहीं है।” छात्रा के ये बातें कहने के बाद ही वहां एबीवीपी के कार्यकर्ता भारत माता की जय के नारे लगाने लगे थे।

खांडू ने छात्रा को जवाब दिया, “मैंने अभी बोलना भी शुरू नहीं किया है। मुझे शुरू तो करने दीजिए। हम आपके सवाल बाद में ले लेंगे।” इसी बीच वामपंथी और एबीवीपी के छात्रों के बीच झड़प भी हुई। हंगामे के चलते कार्यक्रम बीच में ही रोकना पड़ा।

उल्लेखनीय है कि जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव होने जा रहे हैं, जिसके चलते कैंपस में राजनीतिक दिग्गजों की आवाजाही तेज हो गई। जहां कांग्रेस के छात्र संगठन NSUI ने पूर्व केंद्रीय कानून व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद और वामदलों की ओर से मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी को कैंपस बुलाया गया था, तो वहीं ABVP ने सर्वानंद सोनोवाल, पेमा खांडू और ए. बीरेन सिंह को बुलाया।