वामपंथी विचारकों की नजरबंदी पर बोलीं ट्विंकल – आजादी को एक झटके में नहीं, एक-एक करके ही छिनली जाती है

0
49

नई दिल्ली: भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले के सिलसिले में गिरफ्तार पांच मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सभी को 6 सितंबर तक हाउस अरेस्ट में रखने के आदेश दिए हैं। इस सबंध में लेखिका और एक्ट्रेस ट्विंकल खन्ना की प्रतिक्रिया आई है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि आजादी यूं ही एक दिन में नहीं छिन जाती बल्कि एक-एक कर के ली जाती है। ट्विंकल ने ट्विट किया, ‘आजादी को एक झटके में नहीं छीना जाता. वो एक तबके, एक वक्त , एक एक्टिविस्ट, एक वकील और एक लेखक के बाद अंत में हम सब से छीन ली जाती है।’

वहीं स्वरा भास्कर ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक तस्वीर शेयर की जिसमें नए भारत की तस्वीर दिखाई गई है। इस तस्वीर में एक साइड एक्टिविस्ट नजर आ रहे हैं तो दूसरी तरफ लिंचिंग करने वाले। तस्वीर में लिंचिंग करने वाले को बेल और एक्टिविस्ट को जेल जाते हुए दिखाया गया है।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र पुलिस ने कई राज्यों में छापेमारी कर माओवादियों से संबंध के संदेह में पांच प्रबुद्ध वामपंथी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं में रांची से फादर स्टेन स्वामी, हैदराबाद से वामपंथी विचारक और कवि वरवरा राव, फरीदाबाद से सुधा भारद्धाज, मुंबई से अरुण फरेरा और दिल्ली से सामाजिक कार्यकर्ता गौतम नवलाख को गिरफ्तार किया गया है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें अब हाउस अरेस्ट पर रखा जाएगा।