बुलंदशहर केस: बीजेपी नेता शिखर अग्रवाल गिरफ्तार

0
33

नई दिल्ली:  उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित गौरक्षा के नाम पर हिंसा और पुलिस अधिकारी सुबोध कुमार की हत्या के मामले में यूपी पुलिस ने एक और आरोपी शिखर अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया है। शिखर अग्रवाल बीजेपी यूथ विंग से जुड़ा है और वह घटना के बाद से ही फरार चल रहा था।

जानकारी के अनुसार, क्राइम ब्रांच और पुलिस की टीमें शिखर की तलाश में छापेमारी कर रही थीं। बताया जा रहा है कि सोमवार देर रात लगभग एक दर्जन ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। पुलिस अब शिखर के घर की कुर्की करने की तैयारी कर रही थी उससे पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया। 

गिरफ्तारी से पहले शिखर ने एक चैनल को इंटरव्यू दिया इसमें उसने कहा, ‘हमने इंस्पेक्टर की हत्या नहीं कराई बल्कि वह एक दुर्घटना थी। जब इंस्पेक्टर ने भीड़ को धमकी दी तो भीड़ उग्र हो गई। हमने और हमारे साथियों ने भीड़ को रोकने की कोशिश की। जब हिंदुत्व के नाम पर हमारी मां और बहनों का शोषण किया जाएगा। गायें काटी जाएंगी तो हम चुप नहीं बैठेंगे।’

शिखर अग्रवाल बीजेपी युवा मोर्चा का स्याना नगर अध्यक्ष है। इतना ही नहीं, स्याना- चिंगरावठी बवाल में वह पहले नामजद आरोपी है। पुलिस ने बीते दिनों हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज (Yogesh Raj) को गिरफ्तार किया था। योगेश राज को स्याना हिंसा का मुख्य आरोपी बनाया गया था। वह बजरंग दल का जिला संयोजक है और हिंसा के बाद से फरार था।

बताया जा रहा है कि योगेश राज की गिरफ्तारी नेताओं की सहयोग के बाद हुई थी। फरार चल रहे योगेश राज की गिरफ्तारी बुलंदशहर के खुर्जा से हुई थी। उस पर हिंसा भड़काने का आरोप है और पुलिस ने उसे ही मुख्य आरोपी बनाया है। योगेश राज ने ही गो हत्या मामले में झूठी एफआईआर दर्ज करवाई थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें