आयकर का कब्रिस्तान पर छापा – खुदाई में मिला 433 करोड़ रुपये का खजाना

0
137

नई दिल्ली. देश के इतिहास में पहली बार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एक अनोखी रेड मारी है. ये छापा कब्रिस्तान में पड़ा है. फिर छापे के दौरान जब एक कब्र खोदा गया तो उसमें 433 करोड़ रुपये का खजाना मिला है.

आयकर विभाग ने नौ दिनों तक कब्रिस्‍तान में खुदाई की जिसके बाद उसे वहां से कई किलो सोना, करोड़ों के हीरे और कई करोड़ की नकदी बरामद हुई है. दरअसल 28 जनवरी को आयकर विभाग को ख़बर मिली कि तमिलनाडु के मशहूर सर्वणा स्टोर, लोटस ग्रुप और ज़ी स्कॉवयर के मालिकों ने हाल ही में कैश के जरिए चेन्नई में 180 करोड़ की प्रॉपर्टी खरीदी है. और वो इस डील को छुपाकर टैक्स की हेराफेरी कर रहे हैं.

ये खबर इतनी पक्की थी कि आयकर विभाग ने इन कंपनियों के चेन्नई और कोयंबटूर में 72 ठिकानों पर छापा मारने के लिए कई टीमें तैयार कीं, और सुबह से ही आयकर विभाग की टीम इन कंपनियों के ठिकानों पर छापे मारने लगीं. मगर इनकम टैक्स के अधिकारियों के हाथ कुछ भी नहीं लगा. लेकिन एक मुखबीर की सूचना पर उन्‍होंने कब्रिस्‍तान में छापा मारा और वहां से उन्‍हें जो मिला उसे देखकर हर किसी के होश उड़ गए.

आयकर विभाग को सैकड़ों कब्रों के बीच से 433 करोड़ रुपये का खजाना बरामद हुआ है. बताया जाता है कि ग्रुप के मालिकों को आयकर विभाग के छापे की खबर पहले ही लग गई थी और उन्‍होंने अपना सारा खजाना 28 जनवरी को कब्रिस्‍तान में छुपाकर रख दिया था. आयकर विभाग को कब्रिस्‍तान से 12.53 किलोग्राम सोना, 626 कैरेट हीरे और 25 करोड़ की नकदी बरामद हुई है.

बताया जाता है कि ग्रुआरोपियों को आयकर विभाग के छापे की खबर पहले ही लग गई थी और उन्‍होंने अपना सारा खजाना 28 जनवरी को कब्रिस्‍तान में छुपाकर रख दिया था. चेन्नई और कोयंबटूर में जो हो रहा था वो शायद इस देश के इतिहास में पहली बार था

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें