पुलवामा में आतंकी हमले के बाद मंगलवार सुबह तड़के भारतीय वायु सेना द्वारा पाकिस्तानी में घुसकर उसके आतंकी कैंपों को तबाह कर लिए बदले पर यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री आज़म ख़ां ने कहा कि हिन्दुस्तान हमारा वतन है। हमारी पसन्द से हमारा वतन है। मुल्क की हिफाज़त और इसकी ख़ुशहाली हम सब का सबसे अहम मक़सद है।

उन्होने कहा, हम फौजियों के जज्बे को सलाम करते हैं। आज पूरा देश फौजियों के साथ है। हमें उम्मीद है कि इसी बहादुरी से हमारे सैनिक देश के विरोधियों का खात्मा करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे खून का आखिरी कतरा भी हिंदुस्तान के लिए है। देश के सम्मान और जवानों पर हमला करने वालों को सबक सिखाना जरूरी था।

उन्होंने कहा कि मोहम्मद के नाम पर दहशत के कैंप चलाना अखलाकी जुर्म और मजहबी पाप है। इसलिए मोहम्मद के नाम को बदनाम करने वालों की दुनियाभर के मुसलमानों को निंदा करनी चाहिए। उन्होने कहा, देश में अमन चैन हो, तरक़्क़ी हो इससे बड़ी कोई दूसरी फतेह नहीं है। इसे हासिल करने के लिए जो कुछ भी किया जाये वो मजबूरी नहीं बल्कि ज़रूरी है।

वहीं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि पाकिस्तानी जनरल किस बालाकोट की बात कर रहे हैं और अभी यह अंदाजा लगाना व्यर्थ है कि इस कार्रवाई के क्या नतीजे होंगे। लेकिन उमर ने कहा कि अगर यह नियंत्रण रेखा से लगे पुंछ सेक्टर का बालाकोट है तो यह एक बड़ा हवाई हमला है।

नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने टि्वटर पर कहा, वाह, अगर यह सच है तो यह किसी भी कल्पना से छोटी कार्रवाई नहीं है, लेकिन हम आधिकारिक बयान की प्रतीक्षा करेंगे।