सोमवार को जींद के सैनी रामलीला मैदान में रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया ने जाति तोड़ो मानव जोड़ो कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें केंद्रीय राज्य मंत्री रामदास अठावले शामिल हुए। इस दौरान अठावले ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि पाकिस्तान को तुरंत प्रभाव से पीओके को भारत को सौंप देना चाहिए।

उन्होने कहा, पाकिस्तान ऐसा नहीं करता है तो फिर भारत को युद्ध कर पीओके को जीतकर भारत में शामिल कर लेना चाहिए. कारण यह है कि पीओके में ही तमाम आतंकी प्रशिक्षण शिविर चल रहे हैं। भारत में आतंकियों द्वारा तबाही पीओके की जमीन का इस्तेमाल कर मचाई जा रही है। इंडियन एयर फोर्स के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई के लिए अठावले ने पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान की तारीफ भी की।

अठावले ने कहा कि पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शांति कायम करने की दिशा में सही कदम उठाया है। जब उनसे यह सवाल किया गया कि इमरान ने खुद अभिनंदन को रिहा किया है या भारत और विश्व के दबाव में अभिनंदन की रिहाई की है तो अठावले ने कहा कि इमरान ने भी अभिनंदन की रिहाई में अच्छी भूमिका निभाई। भारत और विश्व बिरादरी के दबाव ने भी अपना काम किया।

उन्होंने कहा कि अब इमरान को चाहिए कि वह भारत के साथ दोस्ती को आगे बढ़ाएं। भारत के साथ दोस्ती से ही पाकिस्तान का विकास और भला हो सकता है। उन्होंने पाक प्रधानमंत्री से मांग की कि वह मुंबई सीरियल बम ब्लास्ट के आरोपी दाऊद इब्राहिम, पुलवामा समेत कई आतंकी हमलों के मास्टर माइंड मसूद अजहर समेत तमाम आतंकियों को भारत को सौंपे।

उन्होंने ये भी कहा कि देश को पहली बार ओबीसी का पीएम मिला है। वह लोकसभा में दलितों की आवाज को नहीं दबने देंगे। वे सरकार से सेना में दलितों की अलग से रेजिमेंट बनाने की मांग करेंगे। इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष अनिल बाबा, प्रदेश सचिव रुकसाना चौहान, अजय ओबेराय, वीरेंद्र मौजूद रहे।