अपने नाजायज संबंधों को छुपाने के लिए बीते साल राजस्थान के राजसमंद में एक बंगाली मुस्लिम की जिंदा जलाकर हत्या करने के मामले में आरोपी शंभूलाल रेगर लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा है। उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना 36 वर्षीय रैगर को रामपुर से टिकट देने जा रही है।

बता दें कि रेगर, वर्तमान में राजस्थान की जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद है। पहले वह आगरा से चुनाव लड़ने की योजना बना रहा था। लेकिन अब वह रामपुर से चुनाव लड़ने जा रहा है। बता दें कि इस सीट पर समाजवादी पार्टी (एसपी) ने कद्दावर नेता आजम खान को टिकट दिया है। उधर, बीजेपी ने एक बड़ा दांव चलते हुए पहले तो बॉलिवुड की चर्चित अभिनेत्री जया प्रदा को पार्टी में शामिल कराया, फिर रामपुर से प्रत्याशी घोषित किया है।

दिसंबर 2017 में, शंभूलाल रैगर ने पश्चिम बंगाल के मोहम्मद अफराजुल की हत्या कर दी थी और बाद में उसे जला दिया था। घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ, जिसमें, उसने यह कहते हुए खुद को सही ठहराया कि उसने “एक लड़की को लव जिहाद से बचाने” के लिए अफराजुल को जला दिया। हालांकि मामले की तफ्तीश हुई तो पता चला कि अवैध संबंधों को लेकर शंभूलाल ने कथित रूप से हत्या की वारदात को अंजाम दिया था।

उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने कहा है कि पार्टी नोएडा से सितंबर 2015 में मोहम्मद अख़लाक की हत्या में शामिल आरोपियों में से एक, हरिओम सिसोदिया को भी चुनावी मैदान में उतारने की योजना बना रही है।

यह पूछे जाने पर कि पार्टी एक हत्यारे को टिकट क्यों दे रही है, जानी ने कहा, “रेगर एक अपराधी नहीं है, बल्कि केवल एक हत्या का आरोपी है। कानून उसे चुनाव लड़ने की अनुमति देता है।” उन्होंने राजा भैया, मुख्तार अंसारी और मोहम्मद शहाबुद्दीन भी दिया था, जो इसी तरह के आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे थे।