RSS बनाने जा रहा पहला मदरसा, क्या दीनी मामलों में घुसपेठ की साजिश ?

0
167

इस्लाम और मुसलमानों को विदेशी बताने वाला राष्ट्रीय संवयसेवक संघ (RSS) मुसलमानों के लिए देश में पहली बार मदरसा खोलने जा रहा है। आरएसएस का पहला मदरसा उत्तराखंड में खुलना तय हो गया है। इसके लिए जमीन भी खरीद ली गयी है और जल्द ही इसका तामीरी काम भी शुरू होने जा रहा है।

दरअसल, राष्ट्रीय संवयसेवक संघ की संस्था राष्ट्रीय मुस्लिम मंच देशभर में मदरसों का निर्माण करना चाहती है, संघ के सहयोगी संगठन इसके जरिये मुस्लिम समुदाय के युवाओं को बेहतर शिक्षा देने का दावा कर रही है। बता दें कि देश भर आरएसएस ने अपने स्कूल खोले हुए है।

उत्तरखण्ड में इस समय करीब 20 हज़ार से ज्यादा बच्चे राज्य के 297 मदरसों में तालीम ले रहे हैं। आरएसएस की चिंता ये है कि इन मदरसों में आधुनिक शिक्षा का अभाव है। जो भी छात्र मदरसों में पढ़ाई कर रहे हैं उनको सिर्फ मुस्लिम धर्म की ही शिक्षा दी जाती रही है। जबकि आज के दौर में परम्परागत पढ़ाई के साथ साथ कम्प्यूटर और विज्ञान की पढ़ाई की भी आवश्यकता है।

बताया जा रहा है कि सबसे पहले देहरादून में ही आधुनिक मदरसा खुलेगा। आरएसएस के मदरसे के लिए लिये राज्य सरकार भी जमीन दे सकती है। अब में ऐसे कुछ मुस्लिम बुद्धिजीवियों ने आरएसएस के इस कदम को दीनी मामलों में घुसपेठ साजिश करार दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें