मुसलमानों की वजह से राहुल गांधी को मिली वायनाड में जीत: ओवैसी

0
75

हैदराबाद. एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को हैदराबाद में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा कि भाजपा लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नहीं बल्कि क्षेत्रीय दलों की वजह से पंजाब और केरल जैसे राज्यों में हारी है। राहुल खुद अमेठी में हार गए, लेकिन वायनाड में जीत दर्ज की क्योंकि वहां 40% मुसलमान हैं।

औवेसी ने कहा कि वह देश में मुसलमानों के लिए जगह चाहते हैं, लेकिन वह यह नहीं जानते कि मुस्लिम समुदाय किसी की भीख पर जिंदा नहीं है। रविवार को एक जनसभा में उन्होने कहा कि 15 अगस्त, 1947 को जब देश आजाद हुआ तो हमारे बुजुर्गों ने सोचा था कि यह एक नया भारत होगा। यह भारत आजाद, गांधी, नेहरू, आंबेडकर और उनके करोड़ों अनुयायियों का होगा।

उन्होंने कहा, ‘मुझे अभी भी उम्मीद है कि हमें इस देश में अपना हक मिलेगा। हमें भीख नहीं चाहिए, हम आपकी भीख पर जिंदा नहीं रहना चाहते।’ ओवैसी ने कहा, ‘आप कांग्रेस और दूसरी धर्मनिरपेक्ष पार्टियां छोड़ना नहीं चाहते लेकिन याद रहे कि उनके पास ताकत और सोच नहीं है, वे कठिन परिश्रम भी नहीं करते।’

ओवैसी ने सवाल किया, बीजेपी कहां हारी है? फिर इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पंजाब में बीजेपी हारी है। वहां कौन है? पंजाब में सिख ज्यादा हैं। देश में बीजेपी को और कहां हार मिली? बीजेपी क्षेत्रीय पार्टियों से हारी है, कांग्रेस से नहीं।

बता दें कि राहुल ने 17वें लोकसभा चुनाव में केरल की वायनाड और उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट से चुनाव लड़ा था। कांग्रेस का गढ़ रहे अमेठी से इस बार राहुल को हार का सामना करना पड़ा। यहां से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी जीती हैं। वहीं वायनाड में राहुल को चार लाख 31 हजार वोटों से जीत मिली। जीत के बाद मतदाताओं को धन्यवाद कहने के लिए वह तीन दिन के दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र गए थे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें