दुनिया में तमाम तरह की विविधताओं से भरे जीव हैं. किसी के पास विशेष कुदरती हथियार होते हैं, कोई खुद को छुपाने में सक्षम हैं, कई जीव ऐसे भी हैं जो कई दिनों तक बिना पानी के रह सकते हैं तो कुछ जीव ऐसे भी हैं जो बिना खाए भी जिंदा रह सकते हैं. आइये जानते हैं आज एक ऐसे ही दुर्लभ जीव के बारे में, जो बिना कुछ खाए भी कई साल तक जिंदा रह सकता है.

सैलामैंडर नामक यह जीव दक्षिण पूर्व यूरोप के देश बोस्निया और हर्जेगोविना में पानी के भीतर मौजूद गुफाओं में पाया गया है. करीब 7 साल से अधिक समय होने के बाद भी सैलामैंडर अपने जगह से हिला भी नहीं है. वैज्ञानिकों के अनुसार इस जीव की त्वचा और अविकसीत आंखे इन्हें अंधा बनाती हैं. शायद इसी वजह से यह जीव अपनी जगह से हिल तक नहीं रहे हैं. किसी जीव का इतने लम्बे वक़्त तक अपने स्थान से ना हिलना कोई साधारण बात नहीं है.

सैलामैंडर जीवनभर पानी के भीतर ही रहता है और इसकी उम्र 100 साल की होती है. इसका आवास स्लोवेनिया से लेकर क्रोएशिया जैसे बाल्कन देशों में भी है. सैलामैंडर अपनी जगह करीब 12 साल के बाद तब ही बदलता है जब उसे साथी की तलाश होती है.

हंगेरियन नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम के ज्यूडिट वोरोस के अनुसार “इससे पहले ऐसे जानवरों की कल्पना ही की गई थी. यहां भारी बारिश के कारण ये जीव बहकर गुफाओं से बाहर आने के बाद ही हम इन्हें देख पाए हैं. अन्यथा इन्हें देखने के लिए हमें गोताखोरी कर गुफा में जाना होता है. लेकिन अब हम गुफा के पानी में मौजूद अंशों को देखकर ही यह बता सकते हैं कि वे वहां हैं या नहीं.

“सैलामैंडर जिन गुफाओं में रहते हैं, वहां भोजन आसानी से नहीं मिल सकता है. यह जीव बिना कुछ खाए भी कई वर्षों तक जिंदा रह सकता है. हालांकि सैलामैंडर जब भी सक्षम होते हैं तो छोटे कीड़े-मकोड़े, घोंघे और कीड़ों को खाते हैं.