कहते हैं, पूत भले ही कपूत हो जाये पर माता कभी कुमाता नहीं होती. लेकिन आज के वक़्त में कुछेक माएं ऐसी भी दिखाई पड़ जाती हैं, जो ऐसे काम कर जाती हैं कि मातृत्व को क’लंकित कर देती हैं. ऐसा ही एक मामला अलीगढ़ के रामपुर गाँव से सामने आया है. दरअसल अलीगढ़ में एक 7 महीने की बच्ची को उसकी मां ने जमीन पर प’टक-प’टक कर मौ’त के घाट उतार दिया है. यही नहीं इस दौरान बच्ची की बुआ वीडियो रिकॉर्डिंग तो करती रहीं लेकिन उन्होंने बच्ची को ब’चाने की जरा सी भी कोशिश नहीं की.

इस सनस’नीखेज वार’दात में एक बात और ध्यान देने वाली है कि एक मां ने अपनी मासूम बच्ची को इतनी बेरह’मी से सिर्फ इसलिए मा’र डाला क्योंकि उसके पति ने उसका कहना नहीं माना था और उसे साड़ी नहीं दिलाई थी. घट’ना का जो वीडियो सामने आया है उसमें आरो’पी महिला बच्ची को पट’कते हुए कह रही है कि जिस दिन तू पैदा हुई थी मेरे लिए उसी दिन म’र गई थी. पु’लिस ने आरो’पी महिला को गि’रफ्तार कर लिया है और बच्ची के श’व को कब्जे में लेकर पो’स्टमा’र्टम के लिए भेज दिया है.

इस ज’घन्य घट’ना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. बताया जा रहा है कि परिजन बच्ची को एक प्राइवेट अस्पताल भी लेकर गए थे लेकिन वहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृ’त घोषित कर दिया. पु’लिस मामले की जां’च पड़’ताल में जुटी हुई है. यह घट’ना अलीगढ़ के जवां थाना क्षेत्र के रामपुर गांव की है. घट’ना के बारे में परिजनों ने बताया कि महिला पति से साड़ी खरीदने के लिए दबाव बना रही थी. पति ने मना कर दिया तो उसने बच्ची की नृ’शंस ह’त्या कर दी. आरो’पी महिला के पति ने बताया कि उसकी 3 दिन से तबीयत खराब थी जिस वजह से वह अपनी पत्नी को साड़ी नहीं दिला पाया.

बताया जा रहा है आरो’पी महिला की शादी लगभग 5 साल पहले हुई थी. शादी के कुछ दिन बाद आरो’पी महिला ने एक बेटे को जन्म दिया था. महिला के पति ने बताया कि महिला का स्वभाव शुरू से ही झ’गडालू है. वह शादी के बाद से वह लगातार घर में झ’गड़ा करती रहती थी.