प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं. लेकिन हाल ही में उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटने का एलान कर सबको चौंका दिया. वे अपने सोशल मीडिया अकाउंट बंद करना चाहते हैं. उन्होंने सोमवार रात एक चौंकाने वाला ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, ‘‘सोच रहा हूं कि इस रविवार फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यू-ट्यूब से हट जाऊं. इस बारे में आपको बताऊंगा.’’ मोदी के ट्विटर पर 53 मिलियन, फेसबुक पर 44 मिलियन, इंस्टाग्राम पर 35 मिलियन और यू-ट्यूब पर 4.5 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर हैं.

प्रधानमंत्री के इस ट्वीट के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मौके पर चौका मारते हुए कहा- सोशल मीडिया अकाउंट्स नहीं, नफरत छोड़िए. राहुल गाँधी का ये ट्वीट भी खूब रेट्वीट हो रहा है. प्रधानमंत्री के सोशल मीडिया छोड़ने वाले ट्वीट के बाद जैसे सोशल मीडिया पर ‘नो सर’ वाले ट्वीट की बाढ़ ही आ गयी. प्रधानमंत्री के चाहनेवाले उन्हें ऐसा न करने को कह रहे हैं, वहीँ उनके आलोचक इस बात को लेकर तरह-तरह के मीम्स शेयर कर रहे हैं. अखिलेश यादव ने भी प्रधानमंत्री को नसीहत देते हुए एक ट्वीट कर दिया. अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘सामाजिक संवाद के रास्ते बंद करने की सोचना अच्छी नहीं है बात… छोड़ने के लिए और भी बहुत कुछ सार्थक है साहब… जैसे सत्ता का मोह-लगाव, विद्वेष की राजनीति का ख़्याल, मन-मर्ज़ी की बात, चुनिंदा मीडिया से करवाना मनचाहे सवाल और विश्व विहार… कृपया इन विचारणीय बिंदुओं पर भी करें विचार!

ट्विटर पर मोदी के 53 मिलियन फॉलोअर्स हैं. 11 मिलियन फॉलोअर्स के साथ अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और 73 मिलियन फॉलोअर्स के साथ वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ही उनसे आगे हैं. इस तरह मोदी ट्विटर पर तीसरे सबसे लोकप्रिय व्यक्ति हैं. हालांकि, फेसबुक पर 44 मिलियन फॉलोअर्स के साथ मोदी दुनिया में सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले राजनेता हैं. उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रम्प हैं, जिनके 27 मिलियन फॉलोअर्स हैं. फेसबुक पर मोदी की लोकप्रियता इतनी ज्यादा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति तक के लिए उनसे मुकाबला करना मुश्किल है.