इस साल होने वाला टोक्यो ओलिंपिक र’द्द कर दिया गया है. अब ये ओलिंपिक अगले साल होगा. कोरोना वायरस की वजह से टोक्यो ओलंपिक का आयोजन एक साल के लिए टल गया है. कोरोना वायरस के कारण ओलंपिक के भविष्य पर पहले ही ख’तरा मंडरा रहा था. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के ओलंपिक खेलों के लिए खिलाड़ी ना भेजने के फैसले के बाद ही खेलों के इस महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का दबाव बन रहा था.

ओलंपिक खेलों का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त 2020 के बीच होना था. अब ओलंपिक 2021 में होगा. कोरोना वायरस के कारण विश्व भर में अभी तक 17,000 से ज्यादा लोगों की मौ’त हो चुकी है. ओलंपिक खेलों के लिए जापान के स्टेडियम काफी पहले ही तैयार हो गए थे और बड़ी संख्या में टिकट भी बिक गए थे. कोरोना वायरस के कारण अधिकतर खिलाड़ियों के लिए ओलंपिक की तैयारियां करना मुश्किल हो गया था. जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने बताया है कि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति से खेलों को एक साल के लिए टालने की अपील की थी. जिस पर आईओसी सहमत हो गया और खेलों के महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का फैसला किया.

शिंजो आबे ने आईओसी अध्यक्ष थामस बाक से बातचीत के बाद कहा, ‘मैंने टोक्यो ओलंपिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित करने की पेशकश की और अध्यक्ष बाक ने इस पर सहमति जताई.’ जब इंटरनेशनल ओलंपिक संघ ने ओलंपिक खेलों को स्थगित करने के मामले में कोई सख्त कदम नहीं उठाया तो कनाडा ने ऐलान किया था कि वह टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा नहीं लेगा. कनाडियन ओलंपिक कमिटी और कनाडियन पैरालंपिक कमिटी ने कहा था कि कोरोना वायरस के चलते वह ओलंपिक और पैरालंपिक में हिस्सा नहीं लेगा. वहीं, ऑस्ट्रेलियाई ओलंपिक कमिटी ने सोमवार को अपने खिलाड़ियों को कहा था कि वे सभी अगले साल यानी 2021 को ध्यान में रखते हुए ओलंपिक की तैयारियां करें.