कोरोना वायरस ने अमेरिका जैसे महादेश को भी पस्त कर दिया है. अमेरिका में लगातार दूसरे दिन करीब 2 हजार लोगों मौ’त हुई है. केवल दो दिन में यह करीब 4 हजार लोगों की मौ’त कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से हो चुकी है. अब तक यहां 14,695 लोग मारे जा चुके हैं. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से बुधवार शाम 8:30 बजे जारी लिस्ट के अनुसार 24 घंटे में यहां रेकॉर्ड 1973 लोगों की मौ’त हुई है, जो पिछले दिन की 1939 मौ’तों से अधिक है. अमेरिका में 14,695 लोग कोरोना की वजह से दम तोड़ चुके हैं. मौ’तों की संख्या के मामले में अमेरिका स्पेन (14,555) से आगे निकल गया है. कोरोना की वजह से सबसे अधिक 17,669 लोग इटली में मा’रे गए हैं.

दुनियाभर में अब तक 15 लाख से अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. इनमें से करीब 88 हजार लोगों की मौ’त हो चुकी है, जबकि 3 लाख 29 हजार लोग ठीक हो चुके हैं. अमेरिका में सबसे अधिक 4 लाख 30 हजार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. इसके बाद सबसे अधिक 1 लाख 48 हजार कोरोना मरीज स्पेन में हैं. इटली में 1 लाख 39 हजार लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं. जर्मनी में 1 लाख 13 हजार लोग संक्रमित हुए हैं जिनमें से 2,349 लोग मा’रे गये हैं. 1 लाख से अधिक मरीजों वाले देशों में सबसे कम मृ’त्यु दर जर्मनी में ही है. फ्रांस में भी 1 लाख 12 हजार लोग संक्रमित हुए हैं. यहां 10,800 से अधिक लोगों की मौ’त हो चुकी है.

इस बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि नए आंकड़ों से पता चलता है कि जितनी आशंका थी, उससे कम मौ’तें हुई हैं. उन्होंने यह भी कहा कि ताजा आंकड़ों से पता चलता है कि अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय इस वायरस के लिहाज से अधिक संवेदनशील है. उन्होंने कोरोना वायरस पर व्हाइट हाउस कार्य बल के संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमें इस बात के सबूत मिल रहे हैं कि अफ्रीकी अमेरिकी हमारे देश के अन्य नागरिकों के मुकाबले अधिक संख्या में इससे प्रभावित हैं.’