देवरिया के बरहज विधान सभा क्षेत्र के भाजपा विधायक सुरेश तिवारी एक बार फिर अपनी विवा’दास्पद बयानबाजी को लेकर चर्चा में है. तिवारी का एक विवा’दित बयान वाला वीडियो वायरल हो गया है. इस वीडियो के वायरल होने के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है. वीडियो में उन्होंने अपने समर्थकों से मुस्लिम समुदाय के सब्जी विक्रेताओं से सब्जी न लेने की बात कही है. उधर, मुस्लिम समुदाय के लोग पु’लिस को ट्वीट कर कार्र’वाई की मांग भी कर रहे हैं. बता दें कि भाजपा विधायक सुरेश तिवारी आए दिन अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते है. दो दिनों से वायरल हो रहे इस वीडियो में बीजेपी विधायक कुछ लोगों से कह रहे हैं, ‘एक चीज ध्यान में रखियेगा आप लोग, मैं सबको बोल रहा हूं ओपनली, कोई भी मियां (मुसलमान) के यहां से सब्जी नहीं खरीदेगा.’

बीजेपी विधायक जब ये बात कर रहे हैं तो उसी वक्त पीछे से कोई उन्हें बताता है कि दिल्ली में मुक’दमा दर्ज हुआ है. गौरतलब है कि दिल्ली में एक शख्स ने मुस्लिम सब्जी वाले की पि’टाई की थी. इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद शख्स के खि’लाफ के’स दर्ज किया गया था. यह वीडियो उस समय का है, जब वह बरहज नगर पालिका कार्यालय में गए थे. उस वीडियो में उनके साथ और भी कई लोग भी मौजूद है. बरहज विधायक सुरेश तिवारी का इस वीडियो को लेकर कहना है कि वह 18 अप्रैल को क्षेत्र भ्रमण करने के बाद नपा में गए थे. इस दौरान लोगों ने कहा कि मियां लोग सब्जी बेच रहे हैं तो थूक लगा रहे हैं. तो मैंने कहा कि इस पर तो हम रोक नहीं लगा पाएंगे, इसका रास्ता यही है कि आप लोग उनके सब्जी न लें. मैंने कोई गलत तो नहीं कहा. इसको लेकर अब लोग गलत बवाल बना रहे हैं.

हालांकि विधायक ने अपनी सफाई पेश की है लेकिन उनके शब्दों से साफ़ ज़ाहिर है कि उन्हें अपनी गलती का कोई एहसास नहीं है, बल्कि उन्होंने कहा कि ओवैसी हिंदुओं के बारे में अप’शब्द कहता है, तब कोई विचार नहीं करता है. इस मामले में समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि बीजेपी विधायक ऐसे समय में भी समाज में ज’हर घोलने का काम कर रहे हैं. ऐसे लोगों पर देशद्रो’ह का मु’कदमा होना चाहिए और उन्हें जे’ल भेज देना चाहिए. वहीं, विधायक के इस बयान की कांग्रेस ने भी कड़ी निंदा की है. यूपी कांग्रेस के प्रदेश महासचिव विश्‍वविजय सिंह ने कहा कि भाजपा शुरू से ही बंटवारे के आधार पर राजनीति करती रही है. भाजपा विधायक का य‍ह बयान आप’त्तिजनक व निंदनीय है. इससे कोरोना वायरस से ल’ड़ने के सामूहिक प्रयासों का धक्‍का लगेगा. विधायक के खि’लाफ कठोर कार्र’वाई की जाए. ऐसे लोगों को जे’ल में होना चाहिए.