छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का आज दोपहर लंबी बीमारी के बाद दे’हांत हो गया. करीब 15 दिन पहले कार्डियक अरेस्ट के बाद उन्हें रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था. इलाज के दौरान आज उन्होंने अंतिम सांस ली. जोगी को 9 मई को कार्डियक अ’रेस्ट के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. पूर्व सीएम के स्टाफ ने बताया कि 9 मई को सुबह नाश्ता करते हुए जोगी को अचानक सीने में दर्द महसूस हुआ और सांस लेने में दिक्कत होने लगी.

पत्नी रेणु जोगी इनके पास थीं और उन्होंने ही घर पर मौजूद स्टाफ को इसकी जानकारी दी. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया और स्थिति गंभीर होने के चलते वेंटिलेटर पर रखा गया था. पिता की तबियत खराब होने की सूचना मिलते ही बेटे अमित जोगी भी बिलासपुर पहुंच गए थे.

अलग छत्तीसगढ़ राज्य के गठन के बाद पहले मुख्यमंत्री बने जोगी अपने अंतिम समय में छत्तीसगढ़ जोगी कांग्रेस पार्टी से जुड़े थे. उन्होंने खुद ही इस पार्टी का गठन किया था. हालांकि, इससे पहले उसने कांग्रेस में लंबी पारी खेली. आईएएस की नौकरी छोड़ राजनीति में आए जोगी राज्य विधानसभा, लोकसभा, राज्यसभा और केंद्रीय कैबिनेट के सदस्य रहे.