कोरोना काल में जहाँ दुनिया में करोड़ों लोगों को बेरोजगारी का सामना करना पड़ रहा है, वहीँ कुछ फराखदिल मालिक ऐसे भी हैं जो अपने कर्मचारियों को न केवल काम पर रखे हुए हैं,बल्कि उन्हें उनके घरों तक खुद के खर्चे से वापस पहुंचा रहे हैं. ऐसी ही फराखदिली संयुक्त अरब अमीरात में अपना व्यवसाय जमाये हुए एक भारतीय व्यवसायी ने दिखाई.  एक एनआरआई बिजनेसमैन ने बड़ा दिल दिखाते हुए कंपनी में काम करने वाले 120 कर्मचारियों को शारजाह से चार्टर्ड प्लेन के जरिए केरल भेजा. ये सभी केरल के रहने वाले हैं. बिजनेसमैन हरि कुमार भी केरल के ही रहने वाले हैं. ये सभी कर्मचारी कोरोना लॉक’डाउन के कारण वहां फंस गए थे. रविवार की रात शारजाह से कोच्चि आए चार्टर्ड फ्लाइट में कर्मचारियों के अलावा संयुक्त अरब अमीरात में अपनी नौकरी गंवाने के कारण टिकट के लिए परेशान 50 अन्य लोग भी आए. एलिट ग्रुप ऑफ इंडस्ट्री के चेयरमैन आर हरि कुमार ने कहा कि उन्होंने अपने कर्मचारियों को तमिलनाडु में कोयम्बटूर में कंपनी की इकाई में नौकरी करने का विकल्प भी दिया, अगर वे यूएई वापस नहीं आना चाहते हैं.

चार्टर्ड फ्लाइट से लौटने वाले कर्मचारियों में से एक ने कहा कि उन्हें एक महीने का अतिरिक्त वेतन और गिफ्ट पैकेट भी दिया गया. हरि कुमार ने जोर देकर कहा कि वह सिर्फ अपना काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा “मैंने केवल अपना काम किया. यह मेरा कर्तव्य है कि मैं अपने कर्मचारियों की रक्षा करूं जो मेरे लिए काम करते हैं. चार्टर्ड फ्लाइट उन लोगों को धन्यवाद देने का मेरा सरल तरीका है, जिन्होंने मेरी सफल यात्रा में मदद की है.” हरि कुमार एक प्रसिद्ध कलाकार भी हैं. वह 20 साल पहले नौकरी की तलाश में सउदी अरब गए थे. आज वह एक सफल बिजनेसमैन हैं. उनकी कंपनी वास्तु और औद्योगिक एप्लिकेशन्स और एल्यूमीनियम उत्पादों का काम करती है. उनकी कंपनी में करीब 1,200 कर्मचारी हैं. उन्होंने कहा, ‘एक अच्छी व्यवसायिक फर्म एक परिवार की तरह होती है. फर्म के विकास के लिए सभी काम करते हैं. यदि कर्मचारी परेशानी में हैं, तो उनकी देखभाल करना फर्म का कर्तव्य है. मैं बाहर फंसे और भी लोगों को भेजने में मदद करूंगा.’