भारत में इन्टरनेट स्पीड को नयी ऊंचाइयों पर ले जाने का दावा करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की 43वीं एजीएम में रिलायंस जियो ने जियो ग्लास का एलान किया है. जियो ग्लास एक मिक्स्ड रियलिटी स्मार्ट ग्लास है जिसकी मदद से वीडियो कॉलिंग की जा सकती है. जियो ग्लास में वर्चुअल असिस्टेंट का भी सपोर्ट दिया गया है. जियो ग्लास को खासतौर पर होलोग्राम कंटेंट के लिए पेश किया गया है.

एजीएम में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बताया कि लॉन्चिंग के बाद बहुत ही कम समय में जियोमीट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप को 50 लाख से अधिक लोगों ने डाउनलोड किया है. बता दें कि जियोमीट एप एक क्लाउड आधारित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म है जिसे एप और डेस्कटॉप दोनों के जरिए इस्तेमाल किया जा सकता है. रिलायंस जियो हर साल एजीएम में नए प्रोडक्ट की घोषणा करता है. इस बार कंपनी ने जियो ग्लास पेश किया है. जियो ग्लास की मदद से वर्चुअल तौर पर 3डी अवतार के जरिए बातचीच हो सकेगी. इवेंट के दौरान में इसका डेमो भी दिखाया गया. जियो ग्लास के जरिए बोलकर एक साथ दो लोगों को वीडियो कॉल की जा सकती है.

बातचीत के दौरान ग्लास (चश्में) में ही उस शख्स का 3डी अवतार दिखेगा जिसे कॉल किया गया है. खास बात यह है कि जियो ग्लास में 3डी और 2डी दोनों का सपोर्ट दिया गया है. जियो ग्लास का वजन महज 75 ग्राम है. एक केबल के जरिए जियो ग्लास में स्मार्टफोन के कंटेंट को एक्सेस किया जा सकेगा. जियो ग्लास में 25 एप्स का सपोर्ट दिया गया है. जियो ग्सास का इस्तेमाल ई-क्लास में होलोग्राफिक्स कंटेंट के लिए भी किया जा सकेगा. हालाँकि जियो ने इसकी कीमत के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं दी है.