कई बार छोटी उम्र के बच्चे वो साहसी काम कर जाते हैं जिसे सोचने भर में बड़े-बड़ों के पसीने छूट जाते हैं. ऐसा ही एक काम करने वाले इस साहसी छोटे से बच्चे की कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. दरअसल इस बच्चे को अगर नन्हा सुपर हीरो कह दिया जाये तो ये कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी. ये कहानी है एक 6 साल के बच्चे की, जिसका नाम है ब्रिजर वॉकर. दरअसल, व्योमिंग (अमेरिका) के रहने वाले वॉकर ने अपनी जान पर खेलकर एक खतरनाक कुत्ते से अपनी 4 साल की बहन की जान बचाई.

ब्रिजर वॉकर की कहानी सोशल मीडिया पर देखते ही देखते चर्चा का विषय बन गई. यहां तक कि 6 वर्ष के ब्रिजर वॉकर को मानद बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन का खिताब मिल गया. जैसे ही वॉकर की बहादुरी की खबर वर्ल्ड बॉक्सिंग काउंसिल के पास पहुंची तो उसने ब्रिजर की बहादुरी को देखते हुए वर्ल्ड चैंपियन का मानद खिताब घोषित किया. काउंसिल ने अपने बयान में कहा- 6 वर्ष के ब्रिजर वॉकर, जिसने मानवता के श्रेष्ठ मूल्यों को दर्शाया, को ‘मानद’ वर्ल्ड चैंपियन घोषित करना हमारे लिए गौरव की बात है.

इस घ’टना के दौरान वॉकर को खुद गंभीर चोटें आईं और करीब 2 घंटे लंबी सर्जरी और 90 टांकों के बाद इस बच्चे का इलाज हो पाया. जब ब्रिजर से पूछा गया कि तुम भागे क्यों नहीं तो उसने कहा कि किसी को तो म’रना ही था तो मैं क्यों नहीं. ब्रिजर के बारे में दुनिया को तब पता चला जब उनकी आंटी ने निकोल वॉकर ने ब्रिजर और उसकी बहन की फोटो सोशल मीडिया पर डाली. साथ में ब्रिजर की बहादुरी की कहानी बताई. इसके बाद तो ब्रिजर दुनिया भर में हीरो बन गया. हॉलीवुड फिल्म स्टार क्रिस इवांस ने अपनी तरफ से ब्रिजर को कैप्टन अमेरिका की शील्ड भेजी. एक्ट्रेस एना हैथवे ने ब्रिजर के बहादुरी की तारीफ की.