देशभर में कोरोना वायरस अब अविश्वसनीय तेज़ी से फैलता जा रहा है. एक ओर जहाँ लोग इससे जूझ रहे हैं और एक-दुसरे की मदद कर रहे हैं, तो वहीँ ऐसे भी लोग हैं जो ऐसे में भी ‘आप’दा में अवसर’ तलाश रहे हैं. अब कोरोना के नाम पर आप’राधिक घट’नाएं भी होने लगी हैं. एक ऐसी ही चौंकाने वाली घट’ना हैदराबाद से आई है जहां कोरोना वायरस रोगियों के लिए प्लाज्मा दान करने और दवा की व्यवस्था करने का वादा कर 200 से ज्यादा लोगों को ठ’ग लिया. हैदराबाद पु’लिस ने कल सोमवार को 25 साल के एक युवक को गिर’फ्तार किया है जिसने कोरोना से मौ’त की कगार पर खड़े कई लोगों को प्लाज्मा देकर जान बचाने का झां’सा दिया. इस शख्स ने मरीजों को अपना प्लाज्मा डोनेट करने और दवाइयों का इंतजाम करने के नाम पर जमकर ठ’गा है.

पु’लिस के मुताबिक, आ’रोपी शख्स ने प्लाज्मा देने और कोरोना की दवाई के लिए मरीजों से मोटी रकम की मांग की थी. आ’रोपी ने इसके लिए हाईटेक तरीके भी अपनाए. उसने सोशल मीडिया के माध्यम से पता किया कि किसे प्लाज्मा की जरूरत है. इसकी जानकारी लेकर उसने मरीजों से फोन पर संपर्क साधना शुरू किया. वह खुद को कोरोना से ठीक होने वाले व्यक्ति के रूप में पेश कर फोन से लोगों से संपर्क करता था. उसके बाद आ’रोपी शख्स उस व्यक्ति से प्लाज्मा देने के लिए पैसे देने की मांग करता था.

पु’लिस की ओर से जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, आ’रोपी ऑनलाइन पेमेंट एप के माध्यम से पैसा लेने के बाद मरीजों से संपर्क करना बंद कर देता था. इसी तरह आ’रोपी ने कुछ ऐसे मरीजों को भी ठ’गा जिन्हें कोरोना की दवाएं चाहिए थीं. उनसे संपर्क कर उसने कहा कि वह दवा का इंतजाम कर देगा. इसके बदले भी उसने कई लोगों से पैसे ठ’गे हैं. इस घट’ना का खुलासा तब हुआ जब एक मरीज ने पु’लिस से संपर्क किया और आपबीती बताई.