भूतपूर्व समाजवादी नेता और राज्यसभा सांसद अमर सिंह का आज शनिवार को 64 साल की उम्र में देहां’त हो गया. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में 27 जनवरी 1956 में जन्मे अमर सिंह का दे’हांत सिंगापुर में हुआ, जहाँ वे इलाज के लिए गए हुए थे. वे छह महीने से सिंगापुर के एक अस्पताल में किडनी का इलाज करा रहे थे. आज दोपहर में उनका नि’धन हुआ. बीए, एलएलबी की शैक्षिक योग्यता ग्रहण कर उद्योगपति से राजनेता बने अमर सिंह समाजवादी पार्टी के महासचिव रहे. वे पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निकटस्थों में गिने जाते थे.

इसके अलावा वे बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के भी करीबी रहे. हालाँकि दोनों के रिश्ते में पिछले कुछ सालों में तल्खी आ गयी थी, जिसके लिए अमर सिंह ने इसी साल फरवरी में विडियो जारी कर माफ़ी भी मांगी थी. साल 2010 में उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद उन्हें पार्टी से भी ब’र्खास्त कर दिया गया था.  साल 2016 में वे समाजवादी पार्टी से फिर जुड़े और इस बार राज्यसभा के लिए चुने गए.

इस दौरान यादव परिवार में हुई चर्चित रार के बाद अखिलेश यादव ने 2017 में उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया. अमर सिंह ने 2011 में राष्ट्रीय लोक मंच की स्थापना की. 2012 के विधानसभा चुनावों में उत्तर प्रदेश की 403 सीटों में से अधिकांश पर उनके उम्मीदवार नज़र आये. हालांकि, इन चुनावों में उनकी पार्टी खाता खोलने तक में नाकाम हुई. मार्च 2014 में राष्ट्रीय लोकदल पार्टी में शामिल होकर उन्होंने फतेहपुर सीकरी से आम चुनाव लड़ा, जिसमें उन्हें एक बार फिर हार का मुंह देखना पड़ा.