पश्चिम देशोंन सहित दुनियाभर में इस्लामोफोबिया तेज़ी से बढ़ रहा है। हाल ही में स्वीडन और नॉर्वे में कुरान की बे’अद’बी करने के बाद अब फ्रेंच व्यंग्यय साप्ताहिक ‘चार्ली हेब्दो’ ने मुसलमानों को भड़’काने के लिए पैगंबर ए इस्लाम की शान में गु’स्ता’खी करने का ऐलान किया है। इस कदम पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रॉन ने चार्ली का समर्थन किया है और इस श’र्मना’क हरकत को गलत नही बताया हैं।

इस्लामिक इन्फॉर्मेशन के मुताबिक़,‘चार्ली हेब्दो’ ने मंगलवार को कहा कि वह पैगंबर मोहम्मद (स.अ.व) के बेहद वि’वादास्प’द कार्टून को फिर से प्रकाशित कर रहा है। हालांकि यह बतौर ट्रायल यह प्रकाशन किया जा रहा है। मैगजीन के डायरेक्टर लौरेंट रिस सौरीस्यू ने लेटेस्ट एडिशन में कार्टून को फिर से छापने को लेकर लिखा, ‘हम कभी झुकेंगे नहीं, हम कभी हार नहीं मानेंगे’।

बता दें कि इससे पहले भी ‘चार्ली हेब्दो’ ने पैगंबर मोहम्मद (स.अ.व) पर कार्टून प्रकाशित किया था। जिसके जवाब में 7 जनवरी, 2015 को पेरिस स्थित ‘चार्ली हेब्दो’ के कार्यालय पर हमला हुआ था और दो भाइयों ने अं’धाधुंध गो’लियां बरसाईं थीं। इस हमले में 12 लोग मा’रे गए थे।

हाल ही में नार्वे की राजधानी ओस्‍लो में कुरान को फा’ड़ कर बेअदबी करने का मामला सामने आया है। एक ‘एंटी इस्ला’मिक’ रैली के दौरान स्‍टॉप इस्‍ला’माइजे’शन ऑफ नार्वे नामक संगठन के एक कार्यकर्ता ने बैग से मुस्लिमों की पवित्र किताब कुरान (Quran) निकालकर उसे फा’ड़ दिया।

इससे पहले स्वीडन में इस्लामिक वि’रोधी समूह टाइट डायरेक्शन (स्ट्राम कुर्स) के नेता रासमस पलुदन ने अपने समर्थकों के साथ शुक्रवार की शाम को कु’रान ज’ला दिया। Daily Aftonbladet की रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को एक पब्लिक स्क्वेयर पर इस्लाम-वि’रोधी प्रदर्शनों के दौरान तीन लोगों को पहले कुरान की एक प्रति को पैर मा’रते देखा गया था।