सऊदी प्रेस एजेंसी ने बयान जारी कर कहा है कि सऊदी अरब एक हफ्ते के लिए अस्थाई तौर पर सभी इंटरनेशन फ्लाइट पर प्रति’बंध लगा रहा है जो कि बहुत जल्द खुलने वाला है। खबर आ रही है कि 29 दिसंबर से सऊदी द्वारा फ्लाइट्स पर लगाया गया प्र’तिबं’ध ख’त्म होने जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक़, इस प्र’तिबं’ध को एक हफ्ते के लिए और बढ़ा सकता है. समुद्री रास्तों के जरिए भी सऊदी में एंट्री पर रो’क लगा दी गई है. हालांकि फिलहाल जो इंटरनेशनल फ्लाइट्स सऊदी अरब में हैं उन पर प्र’तिबं”ध नहीं है, वो देश से बाहर के लिए उड़ान भर सकेंगी.

इसके पहले कई सारे यूरोपीय देश यूनाइटेड किंगडम से आने वाली फ्लाइट्स को बैन कर चुके हैं. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी ट्वीट करके बताया है कि उन्होंने कोरोना वायरस रिस्पॉन्स टीम के साथ बैठक की है और फैसला किया है कि वो यूके से आने वाली सभी फ्लाइट्स को अगले 72 घंटों के लिए प्र’तिबं’ध लगाया जाएगा.

बता दें कि भारत ने अभी तक कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मद्देनजर कोई प्र’तिबं’ध नहीं लगाया है. हालांकि सोमवार को 10 बजे स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस मुद्दे पर एक अहम बैठक बुलाई है.

कई सारे यूरोपीय देशों ने यूके से आने वाली फ्लाइट्स पर पा’बंदी लगा दी हैं. नीदरलैंड, बैल्जियम ने यूके से आने वाली फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया है. जर्मनी ने भी यूके की फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया है और साउथ अफ्रीका से आने वाली फ्लाइट्स पर भी बैन लगाने के बारे में विचार किया जा रहा है, क्यों कि वहां पर भी कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है. इटली के विदेश मंत्री ने भी कहा है कि वो भी अपने देश के नागरिकों की रक्षा के लिए फ्लाइट्स पर बै’न लगाएंगे.