भारत से संयुक्त अरब अमीरात जाने की तैयारी कर रहे यात्रियों को अभी और लंबा इंतजार करना होगा। यूएई की सरकार ने भारत में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए यात्रा प्रतिबंध की अवधि को अनिश्चितकाल के लिए बढ़ा दिया है। अबू धाबी में विदेश मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर जारी एक बयान में कहा है कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए यह फैसला किया गया है।

यूएई के विदेश मंत्रालय ने 22 अप्रैल से शुरू हुई इस पा’बंदी की आखिरी तारीख नहीं बताई है। हालांकि, यूएई से भारत आने वाले यात्रियों पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। ऐसे में वहां से आ रही फ्लाइट्स से भारतीय या यूएई के नागरिक भारत आ सकते हैं।

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी वेव के चलते कई देशों ने यात्रा प्रति’बंधों को लागू किया हुआ है। इसमें अमेरिका, फ्रांस, इजरायल, ऑस्ट्रेलिया, हॉन्ग कॉन्ग, ब्रिटेन, यूएई, कनाडा, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, सहित कई अन्य देश भी शामिल हैं। इन देशों ने भारत से आने वाले यात्रियों पर अस्थायी रूप से प्र’तिबं’ध लगाया हुआ है। इन्हें ड’र है कि अगर इनके देश में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन आ गया तो भारी तबाही मच सकती है।

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने भारत से आने वाले यात्रियों पर सबसे कड़े प्र’तिबं’ध लगाए हुए हैं। 3 मई से 14 मई तक ऑस्ट्रेलिया में कोई भी यात्री भारत से नहीं जा सकता है। इस प्रतिबंध को तोड़ने या किसी अन्य देश के जरिए चुपके से ऑस्ट्रेलिया पहुंचने वाले यात्रियों को 5 साल तक की स’जा या 50 लाख रुपये तक का जु’र्माना हो सकता है। सरकार के इस फैसले के बाद ऑस्ट्रेलिया में भारी बवाल मचा हुआ है।