सऊदी अरब, भारत के साथ एकजुटता से खड़ा है, इन मुश्किल समय में COVID 19 द्वारा उत्पन्न चुनौतियों का जवाब देने के लिए, सऊदी अरब दूतावास का एक बयान जारी किया है।

“स्वास्थ्य सहयोग, मानव जीवन की रक्षा और महामारी के खिलाफ लचीलापन का निर्माण हमारे उत्कृष्ट संबंधों के महत्वपूर्ण पहलू रहे हैं।

बयान में कहा गया है, ” भारत में अपने भाइयों और बहनों के सहयोग और दोस्ती के दशकों में निर्माण करना और भरोसा रखना कि वे इस संक’ट से और मजबूत होकर उभरेंगे। ”

सऊदी मिशन का बयान आता है कि भारत ने COVID-19 की दूसरी लहर से लड़ने के लिए कमर कस ली है, जो पूरे देश में बह गई है और पहले से ही तनावग्रस्त भारतीय स्वास्थ्य क्षेत्र को तनाव में डाल दिया है।

26 अप्रैल को, यूरोपीय संघ, यूनाइटेड किंगडम, और संयुक्त राज्य अमेरिका ने भारत की लड़ा’ई में COVID-19 संक्रमण के विना’शका’री उछाल को बढ़ाने में मदद की।

सीसे लेने से सऊदी अरब ने 80 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन भारत को भेज दिया क्योंकि COVID-19 मामलों में अभूतपूर्व उछाल के बीच दक्षिण एशियाई देश आपूर्ति पर कम चल रहा था।