सऊदी अरब में एक 26 साल के युवक को केवल इसलिए फां’सी दे दी गई क्‍योंकि उसने अपने फोन में सरकार विरो’धी प्रदर्शनों की तस्‍वीर को सेव करके रखा हुआ था। इस युवक ने वर्ष 2011 और 2012 में हुए इन सरकार वि’रोधी प्रदर्शनों में हिस्‍सा लिया था। युवक की पहचान मुस्‍तफा अल-दरविश के रूप में हुई है। प्रदर्शनों के समय मुस्‍तफा की उम्र मात्र 17 साल थी। उधर, सऊदी अरब सरकार का कहना है कि यह तस्‍वीर ‘आक्रा’मक’ थी।

सऊदी अरब सरकार ने यह फां’सी ऐसे समय पर दी है जब उसने दुनिया से वादा किया था कि उन विद्रोहियों को फां’सी की स:जा नहीं दी जाएगी जिन्‍होंने अपने बचपन में यह अ’परा’ध किया था। 17 साल की अवस्‍था में मुस्‍तफा ने देश के पूर्वी प्रांत में वर्ष 2011 और 12 में हुए शि’या मुस्लिमों के विरो’ध प्रदर्शन में हिस्‍सा लिया था। वर्ष 2015 में इस युवक को कई अप’राधों’ में अरे’स्‍ट कर लिया गया था।

मुस्‍तफा को 20 साल की अवस्‍था में बिना अप’रा’ध के रि’हा कर दिया गया था। उस समय मुस्‍तफा के परिवार वालों ने कहा था कि पुलिस ने उनके बच्‍चे के फोन को अपने पास रख लिया है। इसी फोन में पुलिस को एक तस्‍वीर मिली थी जिससे वे नाराज हो गए। मुस्‍तफा को जेल में अलग-थलग रखा जाता था और कई बार क्रूर तरीके से पूछताछ के दौरान वह बे’होश हो गया था।

बाद में मुस्‍तफा ने बुरी तरह से पूछताछ किए जाने के बाद अपना अ’परा’ध स्‍वीकार कर लिया। हालांकि कोर्ट में मुस्‍तफा ने इसे खारिज कर दिया और कहा कि उसने ऐसा पि’टाई को रोकने के लिए किया था। इसके बाद मुस्‍तफा करीब 6 साल तक जे’ल में रहा। अंतत: मंगलवार को उसे फां’सी की स’जा दे दी गई। परिवार को मुस्‍तफा के मौ’त की खबर वेबसाइट पर प्रकाशित न्‍यूज से मिली।