तुर्की देश अपने नागरिकों केलिए हर तरह की सुविधा को मुहै’या कराने के लिए सबसे आगे रहता है। इसके अलावा भी तुर्की के राष्ट्र’पति तैयब एर्दोगान को गरीबो का मसीहा भी कहा जाता है। तुर्की देश ल’गातार सुर्खि’या बतौर रहे है। तुर्की के उपरा’ष्ट्रपति फिएट ओकते ने बीते दिन ही कहा है

तुर्की अपने पैरों पर खड़ा है और तुर्की के युवाओं को रो;जगार भी दे रहा हा। तुर्की के उत्तरी साइप्र;स गणराज्य की यात्रा पर पहुँचे तुर्की राष्ट्रपति का स्थानीय लोगों ने स्वागत भी किया। इसी दौरान उन्होंने कोपरलू गांव के निवा’सियों से भी मुलाकात की।

बता दे कि ओकते ने गुंत्रुन’लिक गांव में एक साइट पर जाकर निरीक्षण भी किया । जहां पर तुर्की और टीआ’र एनसी के बीच 2021 में वित्तीय और आर्थिक समझौते के तहत एक औद्यो’गिक क्षेत्र बनाने के योजना भी बनाई गई थी । उन्हें वह पर योजना के तीसरे चरण के बारे में जनाकारी भी दी गई है।

उन्हीने आगे बताया है कि तुर्की एक साइ’प्रस को देखना भी चाहता है क्योंकि निवेश’क निवेश करते है और रो’जगार को पैदा करते है। तुर्की क्षेत्र बहुत आगे है और वह अपने अनुभव को टीआर एनसी के रूप में स्था’नांतरित भी करना चाहता है।